अब नहीं बच सकेंगे जमाखोर, दो टन से अधिक प्याज रखा तो होगी सख्त कार्रवाई


इससे नाराज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्याज की भंडारण सीमा तय कर दी है। अब खुदरा विक्रेता दो मीट्रिक टन व थोक कारोबारी 25 मीट्रिक टन प्याज की भंडारण कर सकेंगे।

लखनऊ. यूपी में प्याज कीमतें बेलगाम हो गई हैं। इससे नाराज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्याज की भंडारण सीमा तय कर दी है। अब खुदरा विक्रेता दो मीट्रिक टन व थोक कारोबारी 25 मीट्रिक टन प्याज की भंडारण कर सकेंगे। यह आदेश दिसंबर माह अंत तक लागू रहेंगे। सरकार जल्द ही इस संबंध में अधिसूचना जारी करेगी।

मुख्यमंत्री कार्यालय से जारी ट्वीट में यह जानकारी दी गई है। बताया जा रहा है भंडारण सीमा लागू करने से पहले व्यापारियों को तीन दिन का समय दिया जाएगा। जिससे व्यापारी छंटाई, पैकिंग का काम तीन दिन में पूरा कर लें। फिर सख्ती के साथ स्टॉक की सीमा लागू की जाएगी। इसके तहत जमाखोंरों को नहीं बख्शा जाएगा।

दाल और सब्जियों की बढ़ती कीमतों पर चिंता व्यक्त करते हुए सीएम योगी ने जमाखोरी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। सीएम योगी ने कहाकि, जनता को उचित मूल्य पर दाल व सब्जियां उपलब्ध कराने के लिए सभी जरूरी कदम उठाये जाएं। जमाखोरी करने वालों पर कठोर कार्रवाई हो। कोई भी व्यापारी अगर खाद्य सामग्री की जमाखोरी करता है तो उस पर कठोरता से कार्रवाई की जाए।






Show More







.

Thanks to News Source by