अब बेहद कम हो जाएंगी आलू-टमाटर और प्याज की कीमतें, सरकार ने उठाया ये बड़ा कदम, दाम होंगे धड़ाम


सरकार जहां प्याज की स्टॉक लिमिट तय करने जा रही है, तो वहीं दूसरी तरफ आम जनता को बड़ी राहत देने के लिए सरकार ने नो प्रॉफिट, नो लॉस पर आलू, प्याज और टमाटर की बिक्री करने का फैसला किया है।

लखनऊ. इन दिनों सब्जियों की कीमतें आसमान छू रही हैं। जिसके चलते प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अब इन कीमतों पर लगाम लगाने का एक्शन शुरू कर दिया है। इसी क्रम एक तरफ सरकार जहां प्याज की स्टॉक लिमिट तय करने जा रही है, तो वहीं दूसरी तरफ आम जनता को बड़ी राहत देने के लिए सरकार ने नो प्रॉफिट, नो लॉस पर आलू, प्याज और टमाटर की बिक्री करने का फैसला किया है। सरकार राजधानी लखनऊ समेत प्रदेश के सभी जिलों में अब इस व्यवस्था को लागू करने जा रही है। सरकारी की तरफ से इसको लेकर जरूरी व्यवस्था करने निर्देश दिए गए हैं। इन सब्जियों को मंडी समिति, हाफेड, पराग डेयरी और राज्य कर्मचारी कल्याण निगम की आउटलेट पर बेचा जाएगा।

तय हुई स्टॉक लिमिट

आपको बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने राज्य में प्याज की उपलब्धता और जमाखोरी पर सख्ती के लिए प्याज की स्टॉक लिमिट तय करने के सख्स निर्देश दिए हैं। प्रदेश सरकार जल्द ही इस संबंध में अधिसूचना भी जारी करने वाली है। इस आदेश के तहत खुदरा व्यापारी 2 मीट्रिक टन तक प्याज का स्टॉक कर सकते हैं, जबकि थोक व्यापारी ज्यादा से ज्यादा 25 मीट्रिक टन तक ही प्याज स्टोर कर सकते हैं। यह सीमा अगले महीने यानी दिसंबर के आखिर तक लागू रहेगी।

व्यपारियों को तीन दिनों का समय

वहीं 23 अक्टूबर को केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने इसको लेकर एडवाइजरी जारी की थी। प्रदेश सरकार की योजना है कि स्टॉक लिमिट लागू करने से पहले व्यापारियों को 3 दिन का समय दे दिया जाए। यानी व्यापारियों को छंटाई और पैकिंग का काम तीन दिन में पूरा कर लेना होगा। उसके बाद स्टॉक की सीमा लागू की जाएगी। दरअसल सरकार ये सारी कार्ययोजना प्रदेश के तमाम जिलों में प्याज की बढ़ी कीमतों को नियंत्रित करने के लिए बना रही है। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी कीमतों पर लगाम लगाने के लिए अधिकारियों को बेहद सख्त निर्देश देते हुए कहा है कि अधिकारी तुरंत इस दिशा में उचित कदम उठाएं।






Show More












.

Thanks to News Source by