इजराइल को लेकर जारी रहेगा यात्रा प्रतिबंध, बांग्लादेश ने पासपोर्ट मामले को लेकर दी सफाई


बांग्लादेश सरकार ने बयान जारी कर कहा कि इजरायल को लेकर उसके रुख में कोई बदलाव नहीं आया है। वह अब भी इजरायल को मान्यता नहीं देगा।

नई दिल्ली। बांग्लादेश ने बीते दिनों पहले इजराइल को लेकर नरमी दिखाते हुए पासपोर्ट से एक वाक्य को हटाने की घोषणा की थी। यह वाक्य था इजराइल को छोड़कर। शनिवार को किया गया ये ऐलान इजराइल के प्रति बांग्लादेश के बदलते रुख की तरह देखा गया। इजराइल के विदेश मंत्रालय ने इसका स्वागत कर राजनयिक संबंध स्थापित करने की वकालत की थी।

Read More: चीन में येलो नदी के पास खराब मौसम के चलते बड़ा हादसा, 21 धावकों की मौत

नीति और रुख में कोई बदलाव नहीं

मगर अब बांग्लादेश सरकार की ओर से बयान जारी कर कहा गया गया है कि इजराइल के प्रति उसकी नीति और रुख में कोई बदलाव नहीं आया है। वह अब भी इजरायल को मान्यता नहीं देता है और यात्रा प्रतिबंध जारी रहेंगे। बांग्लादेश के विदेश मंत्री डॉक्टर एके अब्दुल मोमेन ने रविवार को ढाका में पत्रकारों से बात कर कहा कि हमने पासपोर्ट से यह वाक्य हटाने का निर्णय छह माह पहले ही ले लिया था, जब हमने ई-पासपोर्ट लॉन्च किया था।

संघर्ष का समर्थन करते हैं

बांग्लादेश के विदेश मंत्री ने कहा कि इजरायल को लेकर हमारी विदेश नीति पहली जैसी ही रहने वाली है। उन्होंने साफ किया कि वे फिलस्तीन के लोगों के संघर्ष का समर्थन करते हैं। इसके साथ टू स्टेट सॉल्यूशंस का भी समर्थन करते हैं। ऐसे में विदेश नीति में कोई बदलाव नहीं आने वाला है।

Read More: कांगो में ज्वालामुखी विस्फोट : 15 लोगों की मौत, 500 से ज्यादा घर नष्ट

दुनिया के सभी देशों के लिए मान्य है

गौरतलब है कि बांग्लादेशी पासपोर्ट पर एक क्लॉज लिखा होता है। पासपोर्ट पर लिखा होता है कि यह पासपोर्ट इजराइल को छोड़कर दुनिया के सभी देशों के लिए मान्य है। बांग्लादेश की सरकार ने बीते दिनों पासपोर्ट से यह क्लॉज हटाने का ऐलान किया था। इस पर इजराइली विदेश मंत्रालय में एशिया और प्रशांत के उपमहानिदेशक गिलाद कोहेन ने ट्वीट कर बांग्लादेश के इस कदम की सराहना की थी। गिलाद ने ट्वीट कर कहा था कि अच्छी खबर! बांग्लादेश ने इसराइल के लिए यात्रा प्रतिबंध हटाए हैं। यह स्वागत योग्य कदम है।

.

Thanks to News Source by