उत्तराखंड : कर्फ्यू में राहत न मिलने से व्यापारी नाराज, आज थाली बजाकर जताएंगे विरोध, आंदोलन की दी चेतावनी


सार

सरकार की नई कोविड गाइलाइन के विरोध में व्यापारी ऋषिकेश घाट चौक पर आज प्रदर्शन करेंगे।

प्रदर्शन
– फोटो : प्रतीकात्मक तस्वीर

ख़बर पढ़ें Online

कोविड कर्फ्यू में राहत की उम्मीद को झटका लगने के बाद ऋषिकेश योगनगरी के व्यापारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। व्यापारी आज (बुधवार) को थाली बजाकर सांकेतिक प्रदर्शन करेंगे। वहीं व्यापारियों ने जल्द बाजार न खुलने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

आईएमए का दावा: पतंजलि ने मछली पर किया कोरोनिल का परीक्षण, वो भी ठीक से नहीं हुआ

सरकार की नई कोविड गाइलाइन के विरोध में व्यापारी ऋषिकेश घाट चौक पर आज प्रदर्शन करेंगे। नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के अध्यक्ष ललित मोहन मिश्र ने कहा कि कोविड कर्फ्यू के चलते व्यापारियों की कमर टूट चुकी है। उन्होंने कहा कि हाल यह है कि व्यापारी और उनके परिवार के लिए भूखों मरने की नौबत आ गई है।

हरिद्वार : पतंजलि रिसर्च सेंटर में तेजी से चल रहा काम, जल्द बाजार में आएगी ब्लैक फंगस की दवा – बालकृष्ण

उन्होंने कहा कि व्यापारियों ने सरकार से क्रमवार तीन से चार घंटे सभी दुकान खोलने का आग्रह किया था। लेकिन सरकार ने व्यापारी वर्ग की मांग को दरकिनार कर कोविड कर्फ्यू को आठ जून तक बढ़ा दिया। नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के महामंत्री प्रतीक कालिया ने कहा कि यूपी, हरियाणा समेत विभिन्न प्रदेशों में सरकार ने कोविड कर्फ्यू में ढील दी है।

उत्तराखंड में कोरोना के मामले कम हो रहे हैं। इसके बावजूद सरकार ने अनलॉक की प्रक्रिया शुरू नहीं की है। दोनों पदाधिकारियों ने बताया व्यापरी सामाजिक दूरी बनाते हुए थाली बजाकर सरकार केे निर्णय का विरोध करेंगे। अगर जल्द ही बाजार खोलने की अनुमति नहीं मिलती तो बड़े स्तर पर आंदोलन किया जाएगा।

धर्मनगरी के व्यापारियों ने थाली बजाकर सरकार को जगाने और एक जून से बढ़ाए गए कोविड कर्फ्यू का विरोध किया है। कहा है कि सरकार व्यापारियों को नियमों के साथ दुकानें खोलने की अनुमति दें। वरना व्यापारी बर्बाद होकर सड़क पर आ जाएंगे। 

प्रांतीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधिमंडल उत्तराखंड के प्रदेशव्यापी आह्वान पर शहर व्यापार मंडल ज्वालापुर के व्यापारियों ने श्रीराम चौक पर एकत्र होकर थाली बजाकर सरकार को जगाने का प्रयास किया। शहर अध्यक्ष विपिन गुप्ता व महामंत्री विक्की तनेजा ने कहा कि व्यापारी पिछले एक माह से अपने प्रतिष्ठान बंद करके निरंतर सरकार और स्वास्थ्य विभाग को सहयोग कर रहे हैं, लेकिन सरकार व्यापारियों को लेकर बिल्कुल उदासीन है।

न तो व्यापारियों को सरकार की ओर से कोई राहत पैकेज दिया जा रहा है और न ही कोरोना केस कम होने पर भी दुकानें खोलने दी जा रही हैं। इससे व्यापारियों के सामने परिवार का पालन-पोषण करने का संकट खड़ा हो गया है। दुकानों का किराया, कर, बैंक किस्त, बच्चों की फीस दुकानें बंद रहने से नहीं दी जा रही है। 

मंडल के संरक्षक प्रवीण कुमार ने कहा कि सरकार अपने सारे दफ्तर चला रही है, सारे काम चल रहे हैं, लेकिन कोरोना केस कम होने पर भी अन्य राज्यों की तरह उत्तराखंड के जिलों को छूट नहीं दे रही है। इस मौके पर ओम पाहवा, ओम प्रकाश विरमानी, गौरव गोयल, शशि भूषण सिंघल, हेमंत रावल, सोनू अरोड़ा, ओम प्रकाश अरोड़ा, मगन बंसल, आशीष गुप्ता, सुमित अग्रवाल, सचिन अरोड़ा, राजकुमार, राहुल आहूजा, संदीप पाहवा, तिशू अरोड़ा, लोकेश तनेजा, मनीष धमीजा और विनय आदि मौजूद रहे।

व्यापार मंडल कटहरा बाजार ज्वालापुर में भी सरकार को जगाने के लिए व्यापारियों ने थाली बजाकर विरोध किया। इस दौरान कमल अरोड़ा, हर्ष वर्मा, दीपक पुंडीर, विनोद वर्मा, लोकेश कुमार, जगमोहन सिंह और पंकज वर्मा आदि मौजूद रहे।

विस्तार

कोविड कर्फ्यू में राहत की उम्मीद को झटका लगने के बाद ऋषिकेश योगनगरी के व्यापारियों ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया। व्यापारी आज (बुधवार) को थाली बजाकर सांकेतिक प्रदर्शन करेंगे। वहीं व्यापारियों ने जल्द बाजार न खुलने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

आईएमए का दावा: पतंजलि ने मछली पर किया कोरोनिल का परीक्षण, वो भी ठीक से नहीं हुआ

सरकार की नई कोविड गाइलाइन के विरोध में व्यापारी ऋषिकेश घाट चौक पर आज प्रदर्शन करेंगे। नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के अध्यक्ष ललित मोहन मिश्र ने कहा कि कोविड कर्फ्यू के चलते व्यापारियों की कमर टूट चुकी है। उन्होंने कहा कि हाल यह है कि व्यापारी और उनके परिवार के लिए भूखों मरने की नौबत आ गई है।

हरिद्वार : पतंजलि रिसर्च सेंटर में तेजी से चल रहा काम, जल्द बाजार में आएगी ब्लैक फंगस की दवा – बालकृष्ण

उन्होंने कहा कि व्यापारियों ने सरकार से क्रमवार तीन से चार घंटे सभी दुकान खोलने का आग्रह किया था। लेकिन सरकार ने व्यापारी वर्ग की मांग को दरकिनार कर कोविड कर्फ्यू को आठ जून तक बढ़ा दिया। नगर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के महामंत्री प्रतीक कालिया ने कहा कि यूपी, हरियाणा समेत विभिन्न प्रदेशों में सरकार ने कोविड कर्फ्यू में ढील दी है।

उत्तराखंड में कोरोना के मामले कम हो रहे हैं। इसके बावजूद सरकार ने अनलॉक की प्रक्रिया शुरू नहीं की है। दोनों पदाधिकारियों ने बताया व्यापरी सामाजिक दूरी बनाते हुए थाली बजाकर सरकार केे निर्णय का विरोध करेंगे। अगर जल्द ही बाजार खोलने की अनुमति नहीं मिलती तो बड़े स्तर पर आंदोलन किया जाएगा।


अन्य खबरे

हरिद्वार के व्यापारियों ने थाली बजाकर किया कोविड कर्फ्यू का विरोध

.

Thanks to News Source by