कर्नाटक : मई में कोविड ने ली ज्यादा जानें


– 31 दिन में 10 लाख से ज्यादा संक्रमित
-11 लाख से ज्यादा ने जीती जंग

बेंगलूरु. राज्य में मई का महीना कोरोना महामारी के लिए अच्छा नहीं रहा। अकेले एक माह में कोविड से इतनी जानें गईं जितनी बीते वर्ष में भी नहीं गई थी। गत वर्ष 31 दिसंबर तक राज्य में कोविड से 12,090 मरीजों की मौत हुई। लेकिन, अकेले मई में 13 हजार से ज्यादा मरीजों की सांसें उखड़ गईं।

इतना ही नहीं, महामारी के दस्तक देने के बाद यह पहला ऐसा महीना है जब राज्य में सबसे ज्यादा लोग संक्रमित हुए और मौतों की संख्या भी सर्वाधिक रही। राहत की बात यह है कि इसी माह में सबसे ज्यादा संक्रमितों ने कोरोना से जिंदगी की जंग जीती।

अप्रेल के मुकाबले मई में संक्रमितों की संख्या दो गुना हो गई। मृतकों की संख्या चार गुना ज्यादा रही। लेकिन, करीब पौने सात गुना ज्यादा लोग संक्रमण से उबरे। मई में कुल 10,81,285 लोग संक्रमित हुए जबकि 11,36,689 लोग संक्रमण से उबरने में कामयाब रहे। कोविड के 13,146 मरीजों को अपनी जान गंवानी पड़ी। वहीं, अप्रेल में कुल 5,26,138 लोग संक्रमित हुए जबकि 1,68,744 लोग संक्रमण से उबरने में कामयाब हुए। कोविड के 2,956 मरीजों की मौत हुई। अप्रेल के अंत तक राज्य में पॉजिटिवविटी दर 25.44 फीसदी थी। मई के अंत तक यह दर घटकर 13.57 फीसदी पहुंच गई।

30 अप्रेल 1 तक राज्य में कोविड के 15,23,142 मामले सामने आए थे। इनमें से 11,24,909 लोगों ने कोरोना वायरस को मात दी थी। लेकिन, 31 मई तक कुल संक्रमितों की तादाद 26,04,431 पहुंच गई। इनमें से 22,61,590 मरीज स्वस्थ हुए। 30 अप्रले तक राज्य में केस फेटालिटी दर 0.44 फीसदी थी, जो 31 मई तक बढ़कर 2.47 फीसदी पहुंच गई।

.

Thanks to News Source by