छत्तीसगढ़ के बाद अब ओडिशा में होगी शराब की ऑनलाइन बिक्री और होम डिलीवरी


तालाबंदी के कारण कई व्यवसाय प्रभावित हो रहे है। इन्हीं कारोबारों में से एक शराब बाजार है। चूंकि यह एक अच्छा अर्थव्यवस्था पैदा करने वाला क्षेत्र है, इसलिए ओडिशा सरकार ने सीधे घरों में शराब पहुंचाने का फैसला किया।

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ जाने के बाद कई राज्यों में लॉकडाउन लगाया गया है। तालाबंदी के कारण कई व्यवसाय प्रभावित हो रहे है। इन्हीं कारोबारों में से एक शराब बाजार है। चूंकि यह एक अच्छा अर्थव्यवस्था पैदा करने वाला क्षेत्र है, इसलिए ओडिशा सरकार ने सीधे घरों में शराब पहुंचाने का फैसला किया।

सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक
खोरदा जिला प्रशासन ने एक अधिसूचना जारी कर शराब की ऑनलाइन डिलीवरी की अनुमति दी है। डिलीवरी स्विगी और जोमैटो जैसे फूड डिलीवरी एग्रीगेटर्स और अन्य डिलीवरी बॉयज के जरिए की जाएगी। जिला प्रशासन आदेश के अनुसार सोमवार से शुक्रवार तक सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक डिलीवरी की अनुमति होगी। कंटेनमेंट जोन में कोई डिलीवरी नहीं होगी।

 

यह भी पढ़ें :— Patrika Positive News: स्वयंसेवी संस्थाओं ने खोला दूसरा कोविड केयर सेंटर, 24 घंटे डॉक्टर—ऑक्सीजन सहित इलाज की सभी व्यवस्थाएं

आई- कार्ड और इनवॉयस होगा आवाजाही के लिए पास
शनिवार और रविवार को दुकानें बंद रहेंगी। डिलीवरी करने वाले के पास रिटेलर द्वारा जारी किया गया। एक आई- कार्ड और एक इनवॉयस होगा जो आवाजाही के लिए पास का काम करेगा। सभी डिलीवरी बॉय शराब पहुंचाते समय सोशल डिस्टेंसिंग के मानदंडों का पालन करेंगे।

छत्तीसगढ़ में भी शराब की होम डिलीवरी
आपको बता दें कि इससे पहले लॉकडाउन में छत्तीसगढ़ सरकार ने भी शराब की ऑनलाइन बिक्री और होम डिलीवरी की अनुमति दे दी है। आबकारी विभाग के अनुसार, शराब की डिलीवरी सुबह 9 बजे से रात 8 बजे तक ही की जाएगी। ऑनलाइन ऑर्डर करने के दौरान शराब का नाम और उसका रेट भी दिखाई देगा। शराब दुकान के 15 किलोमीटर के रेंज में शराब ऑर्डर की जा सकती है। डिलीवरी चार्ज अलग से देना होगा। इस दौरान लोग ऑनलाइन या ऐप के जरिए ऑर्डर कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें :— चक्रवाती तूफान तौकते का कहर : समुद्र के बीच में फंसे थे 21 लोग, कोस्ट गार्ड ने इस तरह बचाई जान

होटल और रेस्तरां भी काफी प्रभावित
लॉकडाउन लगाने के बाद सभी उद्योग काफी प्रभावित हुए है। होटल और रेस्तरां के लिए भी यह कठिन समय है। मौजूदा समय को देखते हुए किसी भी को टेकअवे की अनुमति नहीं है। केवल डिलीवरी की इजाजत दी गई है। एक रेस्तरां के मालिक ने कहा कि पिछले कुछ हफ्तों में ऑर्डर में काफी कमी आई है। क्योंकि ग्राहक अब वायरस के डर से कम ऑर्डर कर रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि उनका रेस्तरां नो-कॉन्टैक्ट डिलीवरी का पालन करता है।

.

Thanks to News Source by