दिल्ली में शराब की होम डिलिवरी: देशी और विदेशी शराब की ऐप और पोर्टल के जरिए घर में होगी डिलिवरी, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में पहले से ये व्यवस्था 11

दिल्ली में शराब की होम डिलिवरी: देशी और विदेशी शराब की ऐप और पोर्टल के जरिए घर में होगी डिलिवरी, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में पहले से ये व्यवस्था

दिल्ली में शराब की होम डिलिवरी: देशी और विदेशी शराब की ऐप और पोर्टल के जरिए घर में होगी डिलिवरी, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में पहले से ये व्यवस्था 12



दिल्ली में शराब की होम डिलिवरी: देशी और विदेशी शराब की ऐप और पोर्टल के जरिए घर में होगी डिलिवरी, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में पहले से ये व्यवस्था 13

  • Hindi News
  • National
  • Liquor Home Delivery Through Ordering Through Mobile App Or Online Web Portal Allow By Delhi Government

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली12 घंटे पहले

महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ के बाद अब दिल्ली में भी शराब की होम डिलिवरी की जा सकेगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को ये फैसला लिया। नए आबकारी नियमों के मुताबिक, एल-13 लाइसेंस धारक ही शराब की होम डिलिवरी कर सकेंगे।

दरअसल, दिल्ली में इस बार लॉकडाउन लगने से पहले शराब की दुकानों पर लंबी कतारें देखी गई थीं। इसके बाद कन्फेडरेशन ऑफ इंडियन एल्कोहलिक बेवरेज कंपनीज ने सरकार से शराब की होम डिलिवरी की मांग की थी।

दिल्ली में 863 शराब की दुकानें, शराब पीने की न्यूनतम उम्र 21 साल
दिल्ली में कुल 863 शराब की दुकानें हैं और इनमें से 150 शॉपिंग मॉल्स में हैं। 475 दुकानें सरकारी हैं और बाकी का टेंडर निजी लोगों को सौंपा गया है। दिल्ली सरकार शराब पीने की उम्र में पहले ही 4 साल की कमी कर चुकी है। पहले शराब पीने के लिए न्यूनतम उम्र 25 साल थी, जिसे अब 21 साल कर दिया गया है। इस फैसले को लेकर दिल्ली सरकार विपक्ष के निशाने पर भी आई थी।

महाराष्ट्र में केवल लॉकडाउन तक शराब की होम डिलिवरी
लॉकडाउन के दौरान उद्धव सरकार ने शराब की होम डिलिवरी की इजाजत पहले ही दे दी थी। यहां ऑनलाइन टोकन सिस्टम के जरिए शराब की होम डिलिवरी की जा रही है। यहां जिन दुकानों को लाइसेंस मिला है, वे भी बीयर और हल्की शराब बेच सकते हैं। डिलिवरी मैन के मेडिकल चेकअप, ग्लव्स और मास्क पहनने की भी शर्त रखी गई है।

छत्तीसगढ़ में 10 मई को शुरू हुई होम डिलिवरी
छत्तीसगढ़ ने भी शराब दुकानों पर बढ़ती भीड़ देखते हुए, इन्हें बंद करने का फैसला लिया था। हालांकि, बाद में भीड़ कम रखने और संक्रमण को रोकने के लिए 10 मई को होम डिलिवरी की परमीशन दे दी गई थी। सुबह 9 बजे से रात 8 बजे तक होम डिलिवरी का समय तय किया गया है। हालांकि, डीएम अपने जिलों की स्थिति देखते हुए वक्त में फेरबदल कर सकते हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link