पूनम पांडे के गोवा में अश्लील फोटोशूट के बाद Milind Soman के बिना कपड़ों के दौड़ लगाने पर विवाद


मुंबई। मॉडल एक्ट्रेस पूनम पांडे ( Poonam Pandey ) के गोवा में अश्लील फोटोशूट करवाने पर एफआईआर हो गई है। उन्हें पुलिस ने हिरासत में भी लिया है। अब एक नया विवाद गोवा से ही मिलिंद सोमन ( Milind Soman ) को लेकर सामने आया है। मिलिंद की एक फोटो वायरल हो रही है जिसमें वह बिना कपड़ों के बीच पर दौड़ लगाते नजर आ रहे हैं। लोगों का कहना है कि अगर पूनम पर अश्लीलता के लिए एफआईआर हो सकती है, तो मिलिंद पर क्यों नहीं। सोशल मीडिया पर लोग सवाल कर रहे हैं कि अगर महिला पर अश्लीलता फैलाने का कानून लागू होता है, तो पुरुष पर क्यों नहीं?

यह भी पढ़ें : सास से 1 साल बड़े हैं मिलिंद सोमन, 52 की उम्र में 26 की अंकिता से की थी शादी

ये है मामला

मिलिंद सोमन ने हाल ही अपना 55वां बर्थडे ( Milind Soman Birthday ) मनाया। इस दौरान वह गोवा में हैं। मिलिंद का एक फोटो वायरल हो रहा है जिसमें वह बिना कपड़ों के समुद्र किनारे दौड़ते नजर आ रहे हैं। इस फोटो पर वैसे तो कोई खास विवाद नहीं हुआ, लेकिन पूनम पांडे को हिरासत में लेने के बाद लोग सवाल पूछ रहे हैं। महिला और पुरुष की ओर से अश्लीलता फैलाने को लेकर बहस हो रही है। हालांकि अभी तक किसी भी जिम्मेदार विभाग की तरफ से इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

अपूर्व असरानी का सवाल- पुरुषों के प्रति दया क्यों?

लेखक अपूर्व असरानी ( Apurv Asrani ) ने मिलिंद और पूनम की विवादों से जुड़ी फोटो शेयर कर ट्टवीट में लिखा,’पूनम पांडेय और मिलिंद सोमन, दोनों अपने-अपने बर्थडे पर गोवा में बिना कपड़ों के दिखे। पांडे ने आंशिक रूप से, तो सोमन ने पूरी तरह। अश्लीलता के लिए पांडेय क़ानूनी पचड़े में पड़ गयीं। सोमन 55 की उम्र में अपने शरीर की फिटनेस के तारीफ पा रहे हैं। मुझे लगता है कि हम अपनी निर्वस्त्र महिलाओं के मुक़ाबले निर्वस्त्र पुरुषों के प्रति अधिक दया दिखाते हैं।’

यह भी पढ़ें : Fatima Sana Shaikh का खुलासा – लोग कहते थे काम के लिए संबंध बनाना ही रास्ता है

फोटोशूट की अनुमति देने वाला पुलिस इंस्पेक्टर निलंबित
दक्षिणी गोवा के एक प्रतिबंधित बांध स्थल पर अभिनेत्री पूनम पांडेय के विवादित फोटोशूट को लेकर मचे हंगामे के बाद गुरुवार को एक पुलिस इंस्पेक्टर को निलंबित कर दिया गया। कानाकोना उपजिले के चापोली बांध पर शूट की गईं पूनम की उत्तेजक तस्वीरें इस सप्ताह की शुरुआत में वायरल हो गई थीं, जिसके बाद इलाके में विरोध प्रदर्शन तेज हो गया था। सत्तारूढ़ और विपक्षी पार्टियों के सदस्यों ने गुरुवार को विरोध प्रदर्शन किया, जिसमें इस शूट की अनुमति देने वाले पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई।

आधा दर्जन लिखित शिकायतें

पुलिस ने बुधवार को विवादास्पद फोटोशूट के संबंध में गोवा पुलिस को लगभग आधा दर्जन लिखित शिकायतें मिलने के बाद, पहले अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ और फिर पांडेय के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 294 (अश्लीलता) के तहत एफआईआर रिपोर्ट दर्ज की। पुलिस उपाधीक्षक नेल्सन अल्बुकर्की ने प्रदर्शनकारियों से कहा कि कानाकोना पुलिस थाने के प्रभारी निरीक्षक तुकाराम चव्हाण को निलंबित कर दिया गया है।

.

Thanks to News Source by