Afghanistan सेना के हमले में 70 से ज्यादा तालिबान कमांडर और 152 पाकिस्तानी लड़ाके ढेर


काबुल। अफगानिस्तान के आंतरिक मंत्रालय ने रविवार को एक सूची जारी कर ऐलान किया है कि हेलमंद और कांधार में एक माह पहले शुरू किए गए अभियान में करीब 70 तालिबानी कमांडर को मौत के घाट उतारा गया। तालिबान के हमलों के जवाब में अफगानी सुरक्षाबलों ने यह ऑपरेशन चलाया था। मंत्रालय के अनुसार मुताबिक 20 कमांडर हेलमंद के अलग-अलग हिस्सों के थे। इसके साथ 45-100 सदस्यों तक के समूहों का नेतृत्व कर रहे थे। वहीं, कांधार में करीब 40 तालिबानी कमांडरों मार गिराया गया।

Coronavirus: फाइजर और बायोटेक का दावा, वैक्सीन से महामारी का होगा खात्मा

हेलमंद में मारे गए पाक लड़ाके

हेलमंद में मारे गए 10 कमांडर उरुजगा, कांधार और गजनी से मिले थे। मीडिया के सामने सूची रिलीज करते हुए मंत्रालय ने जानकारी दी कि कम से कम 152 पाकिस्तानी लड़ाके हेलमंद प्रांत में मारे जा चुके हैं। आंकड़ों के अनुसार 65 शवों को डुरंड लाइन के जरिए ट्रांसफर करा गया है। वहीं जबकि 35 शवों को फराह,54 को हेलमंद, 13 को जाबुल और 13 को उरुजगान प्रांत पहुंचाया गया है।

“मंगल ग्रह की मिट्टी लाने की तैयारी में NASA और ESA

134 आम नागरिक मारे गए

इस दौरान करीब 30 तालिबानी कमांडर हेलमंद में घायल पाए गए हैं। इस ऑपरेशन का नेतृत्व चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ जनरल मोहम्मद यासिन जिया ने किया था। अभी भी ऑपरेशन जारी है। मंत्रालय ने दावा किया है कि तालिबान को मात दे दी गई है। प्रवक्ता ने यह भी बताया है कि तालिबान के हमलों में बीते 25 दिन में कम से कम 134 आम लोग मारे जा चुके हैं और 289 घायल हुए हैं। वहीं, तालिबान ने मंत्रालय के बयान का खंडन किया है।









.

Thanks to News Source by