Greater Noida: हाईराइज सोसायटी में शिफ्ट हुए दंपति की हत्या, Grocery स्टोर खोलने आए थे परिवार से अलग


Highlights:

-करीब डेढ महीने पहले ही सोसायटी में हुए थे शिफ्ट

-पुलिस के अनुसार हत्या में किसी जानकार का हाथ

-पुलिस मामले की जांच में जुट गई है

ग्रेटर नोएडा। ग्रेनो वेस्ट के थाना बिसरख क्षेत्र में स्थित चेरी काउंटिंग सोसाइटी में एक बुजुर्ग दंपति का शव फ्लैट से बरामद होने के बाद सनसनी फैल गई। पुलिस के मुताबिक पति और पत्नी की हत्या घर में रखे पीतल के दीप दान से सिर पर वार कर की गई है। घटना की सूचना मिलते ही बिसरख कोतवाली पुलिस डॉग्स स्क्वाड, फॉरेंसिक एक्सपर्ट टीम और क्राइम ब्रांच के इन्वेस्टिगेटर्स मौके पर पहुंचें और इस दोहरे हत्याकांड की जांच शुरू कर दी है। अधिकारियों का कहना है कि इस हत्याकांड के किसी जानकार का हाथ होने के संकेत मिले हैं।

यह भी पढ़ें: Encounter के बाद भी बेखौफ घूम रहे बदमाश, अब घर से बाहर निकली महिला को बनाया निशाना

जानकारी के अनुसार चेरी काउंटिंग सोसाइटी टॉवर नंबर 2 के नौवें फ्लोर स्थित फ्लैट से 55 साल के विनय कुमार गुप्ता और 50 साल की उनकी पत्नी नेहा गुप्ता के शव खून से लथपथ अवस्था में मिले हैं। दोनों की सिर पर प्रहार कर हत्या की गई है। सूचना मिलते ही बिसरख कोतवाली पुलिस और आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। एडिशनल सीपी लॉ एंड ऑर्डर लव कुमार ने बताया कि सोसाइटी की मार्केट में विनय कुमार गुप्ता का ग्रॉसरी का स्टोर था। उस स्टोर के वजह से ही पिछले डेढ़ 2 महीने से सोसाइटी में वे किराए का मकान ले कर रह रहे थे। सुबह यह सूचना प्राप्त हुई दोनों मृत अवस्था में पाये गए हैं।

यह भी पढ़ें: करवाचौथ पर पति ने की आत्महत्या, सुसाइड नोट में लिखा- ‘मुझे माफ करना, तुमको खुश नहीं रख पाया’

उन्होंने बताया कि प्रारंभिक जांच के अनुसार इस हत्या में किसी जानकार का हाथ है क्योंकि सुबह जब घरवाले यहां पर आए तो दरवाज़ा खुला हुआ था और घटना स्थल को देखने पर भी ऐसा प्रतीत होता है कि संभवत कोई ऐसा व्यक्ति रहा है जो जान-पहचान वाला है। जिसके लिए दरवाज़ा खोला गया था। फोर्स एंट्री के निशान नहीं मिले हैं। सामान घर के अंदर बिखरा नहीं है। यह मामला लूटपाट का नहीं लग रहा है।

लव कुमार ने कहा कि हत्या के कारणों की अभी जांच जारी है। इस संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है कि आपसी दुश्मनी के कारण ये मर्डर हुआ हो। परिवार के लोगों से बातचीत चल रही है कि कोई पुरानी दुश्मनी तो नहीं है। अब तक कोई ऐसी बात निकल कर नहीं आई है। काफी समय से नोएडा के पृथला के एरिया में ये लोग किसी सोसाइटी में रहते थे, बाकी परिवार के लोग वहीं रहते हैं। यह लोग डेढ़ महीने पहले ही शिफ्ट हुए हैं। हत्या के लिए जिन चीजों का इस्तेमाल किया गया है उनमें घर में रखा हुआ पीतल का दीप दान और अन्य समान है।






Show More









.

Thanks to News Source by