UP Top Ten News: एक बार तबादला लेने के बाद शिक्षिकाएं दोबारा कर सकती हैं तबादले की मांग


एक क्लिक में पढ़ें यूपी की टॉप खबरें

एक बार तबादला लेने के बाद शिक्षिकाएं दोबारा कर सकती हैं तबादले की मांग

प्रयागराज. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्रदेश के परिषदीय विद्यालयों के शिक्षकों के अंतरजनपदीय तबादलों पर लगी रोक हट गई है। कोर्ट ने अंतरजनपदीय स्थानांतरण में अध्यापिकाओं को बड़ी राहत देते हुए कहा है कि अध्यापिकाएं अगर एक बार अंतरजनपदीय तबादला ले चुकी हैं और उसके बाद उनकी शादी हुई है तो वे अंतरजनदीय तबादले की मांग दोबारा कर सकती हैं। उन्हें मेडिकल के आधार पर भी दोबारा तबादले की मांग करने का अधिकार है। यह राहत सिर्फ अध्यापिकाओं के लिए है जबकि अध्यापकों पर दो दिसंबर 2019 का शासनादेश लागू होगा और वे एक बार अंतरजनदीय तबादले के बाद दोबारा तबादले की मांग नहीं कर सकेंगे। यह आदेश न्यायमूर्ति अजीत कुमार ने प्रदेश सरकार की अंतरजनपदीय तबादला नीति को चुनौती देने वाली दिव्या गोस्वामी सहित अन्य कई याचिकाओं पर दिया है।

एमएसएमई से रोजगार देने के मामले में यूपी पांचवा राज्य

लखनऊ. सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्दम से रोजगार देने के मामले में उत्तर प्रदेश ने पांचवे स्थान पर जगह बनाई है। आरबीआई ने देश के सभी राज्यों का आकलन कर लॉकडाउन के दौरान एमएसएमई सेक्टर में रोजगार देने को लेकर रिपोर्ट तैयार की है। रिपोर्ट के आधार पर लॉकडाउन में लाखों मजदूरों को रोजगार देने के मामले में महाराष्ट्र पहले पायदान पर है। दूसरे स्थान पर तमिलनाड है। इसके बाद गुजरात और मध्यप्रदेश है। जबकि राजस्थान, कर्नाटक, दिल्ली और पंजाब जैसे राज्य यूपी से पीछे है। आरबीआई ने कोरोना के संकट काल में योगी सरकार द्वारा रोजगार सृजन के आंकड़ों को अपनी रिपोर्ट में शामिल किया है।

पांच आईएएस अधिकारियों के तबादले

लखनऊ. यूपी में बुधवार को लखनऊ के मुख्य विकास अधिकारी सहित पांच आईएएस अफसरों के तबादले कर दिए गए। आईएएस प्रभास कुमार को लखनऊ का नया सीडीओ बनाया गया है। वह अभी तक गाजीपुर में ज्वाइंट मजिस्ट्रेट के पद पर सेवाएं दे रहे थे। इसी तरह, लखनऊ के सीडीओ रहे आईएएस मनीष कुमार बंसल को मेरठ के नए नगर आयुक्त का पदभार दिया गया है। अलीगढ़ के नगर आयुक्त सत्य प्रकाश पटेल को विशेष सचिव सचिवालय प्रशासन बनाया गया है। अलीगढ़ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष प्रेम रंजन सिंह को नगर आयुक्त अलीगढ़ का अतिरिक्त चार्ज दिया गया है। नगर आयुक्त मेरठ अरविंद चौरसिया को हटाकर प्रतीक्षारत किया गया है।

विधानसभा के सामने आत्मदाह करने वाली पीड़िता ने लगाया जान से मारने का आरोप

अमेठी. 17 जुलाई को विधानसभा के सामने आत्मदाह का प्रयास करने वाली युवती ने एक बार फिर न्याय की गुहार लगाई है। पीड़िता का आरोप है कि उसके मैटर को छोटा बताकर उसे बंद करने का प्रयास किया जा रहा है। बता दें कि 17 जुलाई को युवती ने मां सोफिया के साथ विधानसभा के सामने आत्मदाह का प्रयास किया था। इसमें दोनों गंभीर रूप से झुलस गई थीं। 22 जुलाई को इलाज के दौरान सोफिया की लखनऊ में इलाज के दौरान मौत हो गई थी। पीड़िता का आरोप है कि उसे नेताओं से जान से मारने की धमकी मिल रही है। शिकायत करने पर जेल भेजने की धमकी मिल रही है। पीड़िता ने धरना देकर न्याय की गुहार लगाई है।

इंद्रकांत मामले के आरोपियों की जमानत की सुनवाई कल

कानपुर. क्रशर कारोबारी इंद्रकांत त्रिपाठी की मौत के मामले में जेल में बंद आरोपी सुरेश सोनी और ब्रह्मदत्त की जमानत याचिका पर अब 6 नवंबर को सुनवाई होगी। लखनऊ की एंटी करप्शन कोर्ट में दोनों की जमानत याचिका की सुनवाई की तारीख बढ़ा दी। सात सितंबर को इंद्रकांत ने वीडियो वायरल किया था। उन्हें आठ सितंबर को गोली लगी थी। 13 सितंबर को कानपुर के एक निजी अस्पताल में उनकी मौत हो गई थी। वीडियो में तत्कालीन एसपी मणिलाल पाटीदार, तत्कालीन कबरई थाना प्रभारी देवेंद्र शुक्ला, ब्रह्मदत्त और सुरेश सोनी पर भ्रष्टाचार समेत कई आरोप लगाए थे। मामले में इंद्रकांत के भाई रविकांत ने तत्कालीन एसपी, कबरई थाना प्रभारी, ब्रह्मदत्त व सुरेश सोनी को नामजद कराते हुए अधीनस्थ पुलिस कर्मी (अज्ञात) के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। सुरेश सोनी व ब्रह्मदत्त जेल में बंद हैं।

चेकिंग करती रही पुलिस, फौजी को लूटकर भागे बदमाश

कन्नौज. कन्नौज जिले में वाहनों की चेकिंग कर रही पुलिस के घटनास्थल से चंद मिनटों की दूरी पर बाइक सवार बदमाश रिटायर्ड फौजी से 50 हजार रुपये लूट ले गए। रिटायर्ड फौजी आलू बुआई के लिए यह रुपये बैंक से निकालकर पत्नी के साथ ई-रिक्शा से घर लौट रहे थे। गुरसहायगंज कोतवाली के गांव गौरियापुर में रहने वाले रामऔतार (70) रिटायर्ड फौजी हैं। वह आलू बुआई के लिए मंगलवार को पत्नी रामकिशोरी के साथ गुरसहायगंज स्टेट बैंक रुपये निकालने गए थे। दोपहर को 50 हजार रुपये निकालने के बाद रामऔतार ने रुपये हैंडबैग में रख लिए। इसके बाद ई-रिक्शा में बैठकर घर लौटने लगे। गांव के पास पहुंचते ही अचानक एक अपाचे बाइक ने ई-रिक्शा को ओवरटेक किया। इसके बाद बाइक सवार लौटे। बाइक पर पीछे बैठे बदमाश ने रिटायर्ड फौजी का बैग लूट लिया। जानकारी पर एसपी व एएसपी ने पहुंचकर छानबीन शुरू की।

दूसरे थानों की पुलिस लागू कराएगी कोविड प्रोटोकाल

लखनऊ. कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन कराने के लिए अब दूसरे थानों की पुलिस भेजकर औचक जांच कराई जाएगी। मास्क न पहनने वालों से जुर्माना वसूला जाएगा। अगर क्षेत्र में अधिक संख्या में लोग बिना मास्क के मिलेंगे तो संबंधित क्षेत्र के पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी। डीजीपी ने इस संबंध में निर्देश जारी किए हैं। क्षेत्र के चौकी इंचार्ज या थानेदार का परिचय भी आपको राहत नहीं दिला पाएगा। हाईकोर्ट ने हाल ही में लखनऊ, कानपुर नगर, प्रयागराज और वाराणसी में बड़ी संख्या में लोगों के मास्क न पहनने पर नाराजगी जाहिर करते हुए पुलिस अफसरों को इसका पालन कराने का निर्देश दिया था। डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने कहा कि पहले चरण में लखनऊ में इसकी शुरुआत होगी। मास्क न लगाने या फेस कवर न करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। लखनऊ के बाद बाकी तीन शहरों और फिर पूरे प्रदेश में यह व्यवस्था लागू कराई जाएगी।

ब्लैक स्पॉट चिन्हित कर कम किए जाएंगे हादसे

लखनऊ. प्रदेश में हर साल 40 हजार से अधिक सड़क हादसे होते हैं। इसमें लगभग 20 से 22 हजार लोग जान गंवा देते हैं। हर साल इस आंकड़े में लगातार इजाफा हो रहा है। इसे कम करने के लिए यातायात निदेशालय एक बार फिर से ब्लैक स्पॉट चिह्नित करने की तैयारी कर रहा है। इससे सड़क हादसों को रोकने में मदद मिलेगी। अपर पुलिस महानिदेशक यातायात अशोक कुमार सिंह ने बताया कि वर्ष 2018 में प्रदेश में 1270 ब्लैक स्पॉट चिह्नित किए गए थे। इनमें से सर्वाधिक 57 हरदोई में, 52 प्रयागराज में और 49 बांदा में चिह्नित किए गए थे। जबकि सबसे कम ब्लैक स्पॉट फतेहपुर और जालौन में एक-एक चिह्नित किए गए थे। राष्ट्रीय राजमार्गों पर 678, राज्य के राजमार्गों पर 334 और अन्य राजमार्गों पर 258 ब्लैक स्पॉट थे। अब जिलों से वर्ष 2017, 2018 व 2019 में हुए सड़क हादसों के मद्देनजर ब्लैक स्पॉट के बारे में जानकारी मांगी गई है।

बच्‍चों के विवाद में दम्पती की पिटाई

वाराणसी. मिर्जामुराद क्षेत्र के तमाचाबाद गांव में बुधवार की सुबह बच्चों के विवाद को लेकर सगे भाइयों के बीच मारपीट हो गई। इस दौरान जितेंद्र मौर्य और उनकी पत्नी सोनी की पिटाई कर दी गई। घायलों ने थाने पहुंच भाई समेत अन्य के खिलाफ तहरीर दी है। बुधवार की सुबह तमाचाबाद में बच्‍चाें के बीच आपस में मारपीट हो गई। बच्‍चों का विवाद जब बड़ों के बीच पहुंचा तो वह भी मारपीट पर उतारू हो गए और एक दूसरे को जमकर मारपीट दिए। इसमें अधिक चोटिल जितेंद्र मौर्य और उनकी पत्नी सोनी ने थाने पहुंचकर भाई के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए तहरीर दी है। पुलिस के अनुसार दोनों ही पक्ष आपस में पटीदार हैं और बच्‍चों के विवाद में मारपीट हुई है, संबंधित व्‍यक्ति से पूछताछ कर विधिक कार्रवाई की जाएगी।

गोरखपुर में प्रार्थना सभा के बहाने धर्म परिवर्तन पर हंगामा

गोरखपुर. गोरखपुर के गोला क्षेत्र के पड़ौली गांव में आयोजित प्रार्थना सभा के बहाने धर्म परिवर्तन कराने की आशंका जताते हुए ग्रामीणों ने हंगामा खड़ा कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने प्रार्थना सभा आयोजित करने वाले एक युवक को हिरासत में लिया था लेकिन तहरीर न मिलने पर चेतावनी देकर उसे छोड़ दिया। उसका एक अन्य साथी भीड़ का लाभ उठाकर पहले ही फरार हो गया था। ग्रामीणों ने बताया कि दोनों युवक काफी दिन से गांव में प्रार्थना सभा आयोजित कर रहे हैं। इसकी आड़ में वे ग्रामीणों को इसाई बनाने की कोशिश कर रहे थे। पड़ौली गांव की दलित बस्ती में केरल प्रांत के तिरुअनंतपुरम निवासी सैमुअल ने अपने एक अन्य साथी के साथ मिलकर प्रार्थना सभा आयोजित की गई थी। प्रार्थना सभा के दौरान गांव के कुछ युवक पहुंच गए और सैमुअल व उसके दोस्त से पूछताछ करने लगे। दोनों ने उनको कुछ भी बताने से इंकार कर दिया। इसी बात पर युवकों ने हंगामा शुरू कर दिया।

ये भी पढ़ें: एमएसएमई से रोजगार देने के मामले में उत्तर प्रदेश देश का पांचवा राज्य, पहले स्थान पर महाराष्ट्र

ये भी पढ़ें: निराश्रितों को शीतलहर से बचाने की तैयारी में योगी सरकार, ऑनलाइन होंगे सभी रैनबसेरे

.

Thanks to News Source by