Uttar Pradesh Assembly election 2022 : असंतुष्टों ने निकाली मन की गुबार, बैठक में दोनों डिप्टी सीएम भी थे मौजूद


UP Assembly Election 2022 Updates: लखनऊ में हुई बैठक में सरकार, संगठन और संघ तीनों से अलग-अलग लिया गया फीडबैक, 2022 का विधानसभा चुनाव जीतने की बनी रणनीति, शीर्ष नेतृत्व परिवर्तन की अटकलें खारिज

लखनऊ.

UP Assembly Election 2022 Updates- यूपी की राजधानी

लखनऊ में चल रही भाजपा के दिग्गजों की महाबैठक में पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव संगठन बीएल संतोष (BL Santosh) ने दूसरे दिन सरकार के मंत्रियों और दोनों उप मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की। बैठक में उन असंतुष्ट मंत्रियों और कुछ विधायकों से भी एक-एक कर बात हुई जो सरकार के कामकाज से संतुष्ट नहीं हैं। यूपी बीजेपी के प्रभारी राधामोहन सिंह ने बैठक में 2022 विधानसभा चुनाव (uttar pradesh assembly elections 2022) की तैयारियों पर भी चर्चा की। कल रात में सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ बीएल संतोष की अहम बैठक हुई थी।

UP Election 2022- बीजेपी

बीजेपी मुख्यालय में चल रही संगठन की उच्च स्तरीय बैठक में पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) बीएल संतोष, बीजेपी उपाध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के संगठन प्रभारी राधा मोहन सिंह, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह व प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल ने प्रदेश के वरिष्ठ मंत्रियों और कुछ विधायकों से मुलाकात की। सोमवार की देर रात मुख्यमंत्री के आवास पर पार्टी की कोर कमेटी की भी बैठक हुई। जबकि मंगलवार को योगी सरकार के दोनों उप मुख्यमंत्रियों के साथ आरएसएस के प्रांत और क्षेत्र प्रचारकों के साथ बैठक हुई। संगठन के वरिष्ठ पदाधिकारियों से बात कर उनके मन की थाह ली गयी। बताया जाता कि सभी ने कुछ बेलगाम नौकरशाहों की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाया। साथ ही कोरोना काल में सरकार की नाकामियों का ठीकरा भी अफसरों पर फोड़ा गया। सूत्रों के मुताबिक बैठक में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या (Keshsav Prasad Maurya) को एक बार संगठन में भेजने के लिए सदस्यों के मन की थाह ली गयी।

यह भी पढ़ें : बीजेपी की केंद्रीय टीम ने मंत्रियों का लिया रिपोर्ट कार्ड, डिप्टी सीएम का दावा- 2022 में जीतेंगे 300 प्लस सीटें

300 से ज्यादा सीटें जीतेगी बीजेपी : केशव प्रसाद मौर्य
कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, सतीश महाना, ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा और कानून मंत्री बृजेश पाठक के अलावा मंत्री स्वाती सिंह से अलग-अलग बैठक की गयी। सभी को 15 से 20 मिनट का समय दिया गया। बैठक के बाद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने दावा किया कि विधानसभा चुनाव में पार्टी कम से कम 300 सीटें जीतेगी। स्वामी प्रसाद मौर्या ने भी कहा कि बैठक आगामी चुनाव को जीतने के लिए थी। हम प्रचंड बहुमत से जीतेंगे। जबकि, उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कुछ भी बताने से इनकार किया। बताया जाता है कि मंत्रिमंडल विस्तार (UP Cabinet Expansion) पर कोई बात नहीं हुई।

यह भी पढ़ें : संघ व भाजपा की हर बैठक में अब यूपी विधानसभा चुनाव ही मुद्दा, सत्ता-संगठन में जल्द हो सकता है बड़ा बदलाव

2022 की रणनीति पर मंथन

बैठक में विधानसभा चुनाव (UP Vidhansabha Chunav 2022) जीतने की रणनीति पर भी चर्चा की गयी। सभी की कोशिश यही रही कि कार्यकर्ताओं की नाराजगी दूर करने के लिए व्यापक जनसंपर्क अभियान चलाया जाए।

यह भी पढ़ें : क्या नासिर कमल बन पाएंगे यूपी के अगले डीजीपी, दौड़ में शामिल हैं ये नौ अफसर

2022 की तैयारियां तेज
यूपी में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए पार्टी ने ‘सेवा ही संगठन अभियान’ को और तेज करने का फैसला किया है। बीएल संतोष ने प्रदेश बीजेपी मुख्यालय पर पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक कर राज्य में कोरोना से बचाव और रोकथाम को लेकर ‘सेवा ही संगठन’ के तहत किये जा रहे कार्यों और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) के नेतृत्व में केंद्र सरकार के सात साल पूरे होने पर प्रदेश में किये गए सेवा कार्यो की जानकारी ली और आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

यह भी पढ़ें : कांग्रेस का सेवा सत्याग्रह, जरूरतमंदों को भोजन बांट रही ‘आप’ की रसोई, भाजपा का रक्तदान शिविर

यूपी में नेतृत्व परिवर्तन कपोल कल्पना : राधा मोहन सिंह
बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राधा मोहन सिंह ने कोविड-19 महामारी की दूसरी लहर के दौरान योगी सरकार (Yogi Sarkar) के नाकाम रहने के आरोपों खारिज कर दिया। उन्होंने कहा कि योगी सरकार ने बेमिसाल काम किया है। पार्टी के नेता व कार्यकर्ताओं ने सबसे मुश्किल दौर में लोगों की मदद की जब दूसरी पार्टियां ‘क्वारंटीन अवधि’ का लुत्फ ले रही थीं। यूपी में भाजपा के नेतृत्व में परिवर्तन की अटकलों पर राधा मोहन सिंह ने कहा कि यह कुछ लोगों की ‘कपोल कल्पना’ है।

यह भी पढ़ें : सीएम योगी का तंज- कोरोना वैक्सीन का विरोध करने वाले अब खुद भी लगवा रहे हैं

.

Thanks to News Source by